Menu

अमरनाथ के हमले में लश्कर का हाथ - पुलिस ने किया खुलासा

अमरनाथ के हमले में लश्कर का हाथ - पुलिस ने किया खुलासा

अमरनाथ के यात्रिओ पर हुए हमले को लेकर जाँच चल रही जिसमे पुलिस ने आतंकवादी दल का हाथ बताया, इस दल का नाम लश्कर-ऐ-तैयबा हैं, इस हमले को करने वाला पाकिस्तान के आतंकवादी अबू इस्माइल को बताया जा रहा हैं पुलिस ने हमले के एक दिन पहले ही लश्कर संघटन का नेटवर्क कश्मीर में पाया था. इस हमले 7 लोगो की जान चली गयी और 19 लोग घायल हो गए. 2 लोगो को व्ही मौत हो गयी थी बाकी पांच लोगो की इलाज के दौरान मौत हो गयी घायल लोगो को अस्पताल पहुंचाया गया है.

पुलिस ने एक आदमी को पकड़ा हैं जो कश्मीर में रहकर लशकर संगठन की मदद करता था आतंकवदीओ ने सबसे पहले सुरक्षा कर्मियों पर हमला किया था उसके बाद जम्मू से वापस आ रही बस पर भी गोलिया चला दी. यह हमला रात को करीब ८.३० पर हुआ था. माना जा रहा हैं की बस आतंकवादिओं के हमले का हिस्सा नहीं थी पर बस को आते देख आतंकवादियों ने उस पर भी हमला कर दिया. पुलिस बता रही हैं बस ने नियमो का पालन नहीं किया, बस का अमरनाथ के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया गया था.

इस बीच, अमरनाथ में हुए हमले को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह और एनएसए अजीत डोभाल ने बैठक की. यह मीटिंग राजनाथ सिंह के घर हुई. इस बारे में उन्होंने नरेंद्र मोदी से भी बात की . राजनाथ ने आंतकवादीओ की कड़ी निंदा की हैं और साथ ही इस हमले से प्रभावित लोगो के लिए दुःख जताया हैं.

पीएम मोदी ने हमले पर ट्वीट करते हुए आतंकवादीओ की निंदा की है और घायलों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना की हैं.

इस हमले के बाद सरकार ने जम्मू कश्मीर के कई हिस्सों में सुरक्षा बढ़ा दी हैं सभी जगह सुरक्षा के पुरे इंतज़ाम कर दिया हैं जिससे आगे होने वाले हमले को रोक सके. ग्रहमंत्री और मोदी ने घायलों से बात की हैं इससे पता चला की हमले के दौरान बस का तैयार पंचर हो गया था. तैयार पंचर होने की जाँच पुलिस कर रही हैं.

कश्मीर के आईजी ने एक सुचना दी हैं जिसमे उन्होंने वापस हमला होने की सभावना बताई हैं उन्होंने ने आशंका जताई हैं की आतंकवादी पुलिस, अधिकारी और श्रदालुओ पर हमला कर सकते हैं. सुरक्षा के लिए पुलिस को हर समय चौकन्ना रहना होगा.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *