Menu

अमरनाथ यात्रा स्वामी विवेकानंद आए थे , दर्शन के बाद उनका यह था कथन

अमरनाथ यात्रा स्वामी विवेकानंद आए थे , दर्शन के बाद उनका यह था कथन

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

अमरनाथ यात्रा स्वामी विवेकानंद आए थे , दर्शन के बाद उनका यह था कथन

स्वामी विवेकानद ने कहा की आज में भी कोई भी यात्रा करने भी आया हु

यही वजह है कि साल-दर-साल यहां पहुंचने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ती जा रही है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि इतनी ऊंचाई पर स्थित इस गुफा का आखिर सबसे पहले पता किसको चला था, वो कौन था जिसने सबसे पहले यहां आकर इस गुफा के दर्शन किए होंगे. आज तक किसी ने भी नहीं सोचा होगा की ऐसा होने वाला हे यह तो सभी लोग यात्रा करने के लिए आते हे

स्वामी विवेकानंद भी गए थे अमरनाथ यात्रा पर

स्वामी विवेकानंद ने जुलाई-अगस्त 1898 को अमरनाथ गुफा की यात्रा की थी और बाद में उन्होंने उल्लेख किया कि मैंने सोचा कि बर्फ का लिंग स्वयं शिव हैं. मैंने ऐसी सुन्दर, इतनी प्रेरणादायक कोई चीज नहीं देखी और न ही किसी धार्मिक स्थल का इतना आनंद लिया है.

और सतह उनोने ये भी कहा की यह किओयात्रा बहुत ही मगलमय होती हे यहां के लोग यह की ठंडी हवाओ का मजा लेने के लिए आते हे[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *