Menu

, मैं इसे सलाम करता हूं: कश्मीरियत अभी जिंदा है अमरनाथ यात्रा हमले के बाद ट्विटर पर राजनाथ सिंह के द्वारा दिया गया अस्वाशन

, मैं इसे सलाम करता हूं: कश्मीरियत अभी जिंदा है अमरनाथ यात्रा हमले के बाद ट्विटर पर राजनाथ सिंह के द्वारा दिया गया अस्वाशन

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

, मैं इसे सलाम करता हूं: कश्मीरियत अभी जिंदा है अमरनाथ यात्रा हमले के बाद ट्विटर पर राजनाथ सिंह के द्वारा दिया गया अस्वाशन

केंद्रीय मंत्री राजनाथ बके द्वारा दिया गया अस्वाशन उनका कहना हे यदि कोई भी अमरनाथ यात्रा में कोई भी वहा के तीर्थ यात्रियों को दिया गया आसवषन हे की कोई बी वहा की कोई भी व्यक्ति कोई बी सराहना करता हे तो वह के लोगो कोई बी नहीं जान सकता हे

साथ ही राजनाथन कहना हे की कश्मीर के वह लोगो को निशाना बनाकर वह के आतकियो ने वहां पर हमले की साजिश की हे जिससे वहा के ल;ोगो कोई भी हमले का दर हो जाये वहां के लगो को कोई भी व्यक्ति नहीं कुछ भी कह सकता हे इसलिए राजनाथ ने ऐसा कहा हे और साथ ही उनोने ये भी कहा हे की उनोने जो भी आतंकवादी हमले में कोई भीव्यक्ति को आसनी से निशान से बनाया जा सकता हे और साथ ही उनोहने ये भी खा हे यदि ये लोग ऐसे ही लोगो को निशाना बनाकर ऐसे ही हमला करतब रहेंगे तो उन्हें काफी बड़ा नुक्सान हो सकता हे

राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ मिलकर ये भी कहा हे की जो शीर्ष के अदिकारी हे उनके साथ मिलकर वहां के तीर्थ यतिरि को ये भी बयान दिया हे की

यदि हम कसमीर में कोई भी आतकी हमले के बारे में कोई भी कुछ भी सराहना करते हे तो इससे हमारे देश को नुक्सान हो सकता हे इसलिए हमे कोई भी निर्णय लेना होगा तो वो भी सोच समझकर लेना होगा जिससे हमारे देश को कोई भी नुक्सान नहीं हो

राजनाथ का कहना हे की कोई भी व्यक्ति ये नहीं कहना चाहता हे की हमे नहीं लगता हे कश्मीर में कोई भी व्यक्ति इस तरह का कोई भी आतकी हमला हमारे को निशाना बनाकर रक्खा जाता हे तो हमे इससे कोई भी नुकसान हो सकता हे

और ये भी हे की यदि कोई भी ये कहता हे की यदि कश्मीर सरकार को ये भी लगता हे की हमे ऐसा करने में कोई भी आतकी हमले की कोई भी जिम्मेदारी नहीं लेती हे तो इससे इससे भारत सरकार को बहुत बड़ा फर्क पड़ता हे

 

[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *