Menu

किस तरह से मलेरिया रोग से बचा जा सकता हे

किस तरह से मलेरिया रोग से बचा जा सकता हे

[vc_row][vc_column][vc_column_text]किस तरह से मलेरिया रोग से बचा जा सकता हे

तो दोस्तों आज आपको हम बताने जा रहे की किस तरह आप अपने आप को मलेरिया रोग से बचा सकता हे तो दोस्तों हम आपको बता देते हे की इस रोग में प्लाज्मोडियम पर जीवी के संक्रमित

केनापिलीज मच्छर के काटने के से रोगनु व्यक्ति के खून में फेल जाते हे लक्षण मच्छर के काटने से १० दिन से ंशुरु होकर ४ सप्ताह तक रहते हे लखन बुखार आना ये मुख्य लखन हे इससे आपको पेट दर्द कपकपी खासी जुकाम है हाईथोपियुआ और तेज साँस चलना

डेंगू किस प्रकार से फैलता हे

मानसून में होंरे वाले लोगो को भी इसके बारे में पता नहीं होता यह रोग बहुत जल्दी को बछबो को भी फेल जटाहे इसलिए लोगो को बवच केर रहना पड़ता हे यह बहुत ही सामन्य ही बीमारी होती हे एडीज इजिप्ट यह भी मच्छर के काटने से होता हे इसके यह भी लखन होते हे इसमें भी व्यक्ति को बुखार और खासी और जुकाम मस्पसियो में दर्द होता हे उलटी होती हे दस्त लग हे ऐसा भी बतया जजातहे की लोगो की स्किन पर लाल रंग केदाने भीपद जाते हे इससे व्यक्तिओ की मोत भी हो सकती हे प्लॉट्स की संख्या ज्यादा होने पैर अपने नाक और कान से खून भी निकल सकता हे और बीपी भी कम हो सकता हे

येलो फीवर

पित्तज्वर भी यही कहते हे यह भी डेंगू मलेरिया की तरह ही वायरल भी संकमण फैलता हे जो सतोगोमिया मच्छर के काटने से फैलता हे यह मच्छर दिन के समय काटता हे इसका मुख्य लखण पीलिया होता भी इसमें भी क्या होता हे अपने आँखों और अपनी त्वचा भी पीली हो जाती हे

आयुर्वेदिक उपाय

विषीले तत्वों मको बाहर निकलने के लिए वैट पिट की santulit करने के लिए और बुखर को कम करने के लिए आपको दवा भी लानी होगी तभी आप इस रोग को आसनी से कम किया जा सकता हे

धनव्यास ,मुस्ता ,पर्पटक खास ,संदल, ग्वारपाठा जैसी जड़ी बतिया ये भीसभी मेबहुत ही लबकरी होती हे पिट की सन्ति मलित करने करने के लिए व् रक्त को रोकने के लिए ठंडक देने वाली दवाओं का भी इसमें दवाओं कभी इसमें प्रयोग किया गया हे जैसे की कामदुधा रस चन्द्रकला रस लआदि ये दवाये भी लेना जरूरी हे ये भी बतया गया हे रोगी को पीने के लिए गुनगुना पानी हुए उसे नहलाने की बजाय उसे गीले कपड़े से साफ कर दे[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *