Menu

नकली प्रोडक्ट की कैसे पहचान करे

नकली प्रोडक्ट की कैसे पहचान करे

[vc_row][vc_column][vc_column_text]आजकल बाजार नकली प्रोडक्ट्स से भरा पड़ा हुआ हैं | ज्यादातर लोग नकली और असली प्रोडक्ट में अंतर नहीं कर पाते| अगर आप चाहते हैं की आप नकली प्रोडक्ट्स की धोखाधड़ी से बचे रहे तो आपको कुछ ख़ास बातो का ख्याल रखना होगा | आइये जानते हैं ऐसी ख़ास बातो के बारे में जो आपको सही प्रोडक्ट्स तक पहुंचा सकती हैं

व्याकरण व मात्राओ की त्रुटि

नकली प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनियां अक्सर अपने प्रोडक्ट के नाम में व्याकरण या मात्राओ की त्रुटि करती हैं | ऐसा बड़े ब्रांड के नाम को कॉपी करने के लिए किया जा सकता हैं | इस तरह के नकली प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी खुद को कानून से बचने की कोशिश करती हैं | कंपनियां ग्राहकों को ठगने के लिए भी ऐसा करती हैं | उन्हें लगता ह के ग्राहकों को मिलते जुलते नाम से धोखा दिया जा सकता हैं | पहले ग्राहकों के अंदर इतनी ज्यादा जागरूकता नहीं थी, पर अब ग्राहक हर ब्रांड के नाम को पहचानता हैं और तुरंत पता लगा सकता हैं के कहाँ गड़बड़ी हुई हैं | आपको जल्दबाजी में खरीदारी से बचना चाहिए|

बेमेल और चूक वाली प्रिंटिंग

अच्छी कपनियां अपने प्रोडक्ट की पैकिंग पर कुछ फीचर्स जैसे कोड्स, सीरियल या मॉडल नंबर, ट्रेडमार्क, पेटेंट की जानकारी लिखती हैं | आमतौर पर नकली प्रोडक्ट्स इस तरह की जानकारी नहीं लिखते हैं | वे सिर्फ आधी अधूरी जानकारियों की कॉपी करते हैं | आप चाहे तो ऑनलाइन जाकर असली प्रोडक्ट्स से नंबर को क्रॉस चेक कर सकते हैं | आप इसे खासतौर पर इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स या एप्लायंसेज पर अप्लाई कर सकते हैं | यहाँ आपसे गलती होने की आशंका ज्यादा रहती हैं | बेमेल और चूक वाली प्रिंटिंग से होने वाली धोखाधड़ी से बचना बहुत जरुरी होता हैं |

अवास्तविक छूट

आप कुछ भी खरीदते हैं और उसमे अवास्तविक छूट मिलती हैं तो सावधान हो जाना चाहिए | खासतौर पे ऑनलाइन खरीदारी में आपको इस बात का ख्याल रखना चाहिए| इस बात की जानकारी होनी चाहिए की ब्रांडेड या लक्ज़री आइटम्स पर आमतौर पर कितना डिस्काउंट दिया जाता हैं | आपको लगे की ऑफर अवास्तविक हैं तो यानी एमआरपी पर 80 फीसदी तक छूट दी जा रही हैं तो यकीं मानिये की नकली प्रोडक्ट खरीद रहे हैं|

 

घटिया पैकिंग

पूरी दुनिया में अच्छे ब्रांड्स और बिज़नेस अपनी पैकिंग का पूरा ख्याल रखते हैं और पैकिंग पर काफी पैसे खर्च करते हैं | अगर आइटम सही तरह से पैक नहीं किया गया हैं या बॉक्स में सही तरह से फिट नहीं हो रहा हैं या इसमें ख़राब स्टैण्डर्ड का सामान इस्तेमाल हो रहा हैं जैसे सस्ती प्लास्टिक या घटिया कार्डबोर्ड तो समझ ले की आपका वास्ता नकली प्रोडक्ट से पड़ा हैं | इसी तरह से यदि आपको बिना पैकिंग के कोई प्रोडक्ट मिला हैं तो हो सकता हैं के वह नकली प्रोडक्ट हो | पैकिंग पर गौर करने के बाद ही प्रोडक्ट ओपन करे |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *