Menu

भारत को अपने देश की आधारिक संरचना को किस तरह से विकसित करना चाहिए अन्य देशो की तुलना में

भारत को अपने देश की आधारिक संरचना को किस तरह से विकसित करना चाहिए अन्य देशो की तुलना में

[vc_row][vc_column][vc_column_text]भारत को अपने देश की आधारिक संरचना को किस तरह से विकसित करना चाहिए अन्य देशो की तुलना में

भारत में स्वंत्रता ले पश्चात सरककर ने सर्वजनक छेत्रक में की प्रयास किये हे | किन्तु भारत में कोई भी विकास नहीं ह पाया हे | देश में पिछले वर्सो में निजी छेत्र के स्वस्त सेवाओं को भी तीव्र वृद्धि हुई हे |

वर्तमान में भारत में लगभग 70 प्रतिशत से अधिक अस्पताओं संचालन निजी छेत्रक में ही किया जा रहा हे टी तथा लगभग 60 प्रतिशत दवाखानो को भी निजी निजी छेत्रक के उधमियों के दवरा चलाये जा रहे हे | देश में उपलब्ध बीओस्ट्रो को लगभग २/5 वि हिस्सा निजी छेत्रक के अस्पतालों को दिया जा चूका हे | भारत में लगभग 80 प्रतिशत बाहेर के लोगो को इसमें अहमिल किया जा चूका हे लोगो का कहना हे हम भी अपने देश के लोगो के बारे में कुछ न कुछ कहना चाहते जिससे हमं भी अपने देश की सभी प्रकार की कोई समसाओ को भी आसानी से सही किया जा सकता हे |

सरकार का यह भी कहना हे अपने देश के लोगो को यह भी अच्छी तरह से पता हे अपने देश के लोगो को कोई भी कुछ भी नहीं कह सकता हे | यदि आज भी भारत चाहे तो आज भी भारत विकसशील देश की श्रेणी में आ सकता हे बस भारत को आने देश की अर्थवस्ता को सही तरह से विकसित करना होगा ताकि लोगो को ये भी लगे की हमारे देश भी विकाश शील देशो की श्रेणी में आसनी से आना चाहिए ताकि लोगो को भी आगे बढ़ने का मौका मिलना चाहिए ताकि लोगो को भी इसके बारे में कुछ कहना का मौका नहीं मिलना चाहिए |

आज भारत की तुलना अन्य देशो से की जाये तो लोगो को यही नहीं पता हे की हमारे देश की अर्थवव्स्ता को किस तरह चलाया जा सकता हे तथा हम भी अपने देश की अर्थवव्स्ता को आसनी से सही कर सकते तथा लोगो को भी इसके बारे में आसनी से बता भी सकता हे की किआ तरह से अपने देश की अर्थवव्स्ता की तुलना अन्य देशो से आसनी से की जा सकती हे |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *