Menu

चीन बना रहा हे , राज्यो को फंसाने की साजिश .

चीन बना रहा हे , राज्यो को फंसाने की साजिश .

[vc_row][vc_column][vc_column_text]गौरतलब हे की चीन ने 1950 में तिब्बत पर कब्जा किया था , और 2017 में भूटान को भी तिब्बत की तरह बनाने की कोसिस कर रहा हे . बताया जा रहा हे की तिब्बत की तुलना में भूटान भी कमजोर ही नहीं बल्कि हर तरह से छोटा देश हे . लेकिन सामरिक तोर पर देखा जाए तो तिब्बत से कही ज्यादा बड़ा खतरा भूटान पर हे जिसपर चीन की नजर हे . तिब्बत की सीमा कश्मीर, उत्तराखंड ,सिक्किम से लेकर अरुणाचल से मिलती हे |

तिब्बत का क्षेत्रफल लगभग 12 लाख 20 हजार वर्ग किलोमीटर तक फैला हुआ हे | आपको ये भी बता देते हे की भूटान का क्षेत्रफल 38000 वर्ग किलोमीटर हे तिब्बत की जनसंख्या 27 लाख 70 हजार है, तो भूटान की जनसंख्या 7 लाख 50 हजार है. ध्यान देने बात ये है कि 1950 के बाद 27 बार चीन ने सिक्किम और अरुणाचल पर नजर उठाई है. अगर चीन भूटान पर कब्जा करता है, तो खतरा पूरे नॉर्थ ईस्ट के राज्यों पर आ जाएगा.

 

नक्शे में बताया गया हे की डोकलाम की भौगोलिक स्थिती को देखा जाए तो ऐसा लगता हे की , वहा से थोड़ी दूरी तय करने पर चीन को कोई भी समस्या नहीं होगी . जहा से सिक्किम और बंगाल के बीच से निकलने वाले रास्ट्रीय राजमार्ग 31 तक चीनी सेना वहा तक कभी पहुंच सकती हे . ऐसे में वहा के लोगो का कहना हे की वहा के आस के जो भी राज्य उन पर भी संकट आ जाएगा |

भूटान को भी बनाना चाहता हे तिब्बत

हम आपको ये भी बता देते हे की चीन ये भी साजिश करने में लगा हुआ हे की भूटान को भी तिब्बत की तरह बना दिया जाये. जिससे वे भी अपने से छोटे देशो पर आसानी से कब्जा कर सके . यही उसकी रणनीति हे |जब भारतीय सेना ने इसका विरोध किया तो चीनी सेना ने भरतीय सेना की कई चौकियों को नस्ट कर दिया हे | लोगो का मानना यह हे की भारत और भूटान की सेना से गतिरोध के बावजूद वहा पर चीनी सेना वहा पर निर्माण सामग्री भजने में लगी हुई हे, ऐसे में साफ हे की भारत के डोकलाम से पीछे हटने पर चीन भूटान को भी दूसरा तिब्बत बना देगा |

चीन ने लूटा तिब्बत को

दुनिया की सबसे ऊंची जगह तिब्बत में चीन ने राजमार्ग बना लिया हे . और सीओ वहा पर आराम से उन्हें लूट रहा हे जिससे चीन को बहुत ही फायदा हो रहा हे . और चीनी सेना 70 % जंगल को साफ़ कर दिया हे . और उन्होंने तिब्बत को भी सेनिको का अड्डा बना दिया हे . चीन से तिब्बत से निकलने वाली सतलुज, सिंधु, ब्रम्हपुत्र, और इरावदी नदियों पर भी अपना कब्जा जमा लिया हे |

खनिजों का भण्डार हे तिब्बत में .

तिब्बत को चीन इसलिए लूट रहा हे की वहा पर खनिज बहुत ही अधिक सम्पदा पायी जाती हे, माना जाता हे की उसका डेढ गुना भाग जो भी हे सिर्फ तिब्बत में ही पाया जाता हे |जिस पर चीन ने पूरी तरह से अपना कब्जा जमा लिया हे .तिब्बत में एजबेस्टस, कोबाल्ट, तांबा, हीरा, सोना, चांदी, रेडियम. पारा, टाइटेनियम, प्राकृतिक गैस और पेट्रोलियम का भंडार बहुत सारे हे |

चीन भी भरत को भी बार- बार धमकी दे रहा हे की अपनी सेना को वापिस बुला ले , अगर हमारे देश की सेना डोकलाम से वापिस आ गयी तो चीन डोकलाम पर चीन मजबूत पकड़ बना लेगा |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *