Menu

दुख निराशा के बीच अंदरूनी ख़ुशी यूं तलाशे

दुख निराशा के बीच अंदरूनी ख़ुशी यूं तलाशे

[vc_row][vc_column][vc_column_text]दुख और निराशा जैसी भवनाओ से खुद को को घिरा हुआ पाती है तो ऐसा लगता है की आपके आस पास की पूरी दुनिया खत्म हो गयी है ,ऐसे में इस तरह की नकारात्मक भावनाओ से छुटकारा पाना भी आसान नहीं होता है लेकिन क्या आप जानती है की इस परिस्थित से निकला खुद के हाथ में है और अगर आप इन भवनाओ के साथ सामन्य रहेगी तो यकीन मानिये ये दौर आसानी से निकल जायेगा जानना चाहेगी की किस प्रकार से ऐसा हो सकता है |

खुद को वक़्त दे

दुखी होने का तरीका हरेक व्यक्ति को अलग होता है | ऐसे में एक शख्स को इस अहसास को छूटने और आगे बढ़ने में कितना समय लगेगा , यह कहना मुश्किल है इसी को ध्यान में रखते हुए हम आपको बताना चाहते है की अपने आपको उबरने का पूरा समय दे और जल्दबाजी ना करे भले ही आपको इसके लिए कुछ मह्त्वपूर्ण प्रोजेक्ट या परिवारिक कार्यक्रमों को क्यों न ही छोड़ना पड़े , उन्हें आप छोड़ ही दे |

खुद का ध्यान रखे

दुख और निराशा में डूब जाना आसान है और इसलिए आप ऐसा होने देती है ऐसा न होने दे | सेहतमंद खाये , पूरी नीँद ले ,व्यायाम करे और सामाजिक मेलजोल बढ़ाये | मन इस दौरान न खाने की इच्छा होती हो और न ही आपको नीँद आती हो लेकिन जो आप अपनी शारीरिक सेहत के लिए जो जार सकती है वो भी करे, हो सकता वो आपकी सेहत के लिए लाभदायक हो सकता है , और आप अपना मेलजोल बढ़ाकर अकेलापन महसूस नहीं करेंगे .

खुद से बाहर निकले

अपनी नकारात्मक भवनाओ के भवर से निकलने का बेहतरीन रास्ता है की दुसरो की मदद करे | जहां से भी आप से हो सकता हो और मदद का हाथ आगे बढ़ाये दोस्त हो या फिर कोई भी जरूरतमंद हो आपको उसकी मदद करनी है दुसरो की मदद मिलने वाली ख़ुशी आपको अपने गम से निकलने में बहुत ही मदद करेगी |

लेखन भी मददगार

बहुत से लोगो को लेखन बहुत ही सकूं देता है अपने जीवन के सफर के बारे में लिखे | इसे बस खुद तक ही सीमित रखे किसी और को दिखने की जरूरत नहींहै यह अपनी भवनाओ को निकालने का बेहतरीन तरीका है , अपने गुस्से के बारे में लिखे दुख या फिर भी जो भी महसूस कर रही हो लिख डाले .

अच्छे वक़्त को याद करे

जब भी आपको अच्छा महसूस हो तो आप आप अपनी पुरानी चिट्ठियां या फिर अपने पुराने ईमेल देखे या फिर अपने पसंद का गाना सुने और अच्छे वक़्त को याद करे | इन चीजों के जरिये आने वाले अहसासों में डूब जाए अगर आपका रोने का मन करे तो रो ले ,इससे आप हल्का महसूस कर सकेगी |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *