Menu

जनता के लिए नोटबंदी और खफा लिए 705 करोड़

जनता के लिए नोटबंदी और खफा लिए 705 करोड़

[vc_row][vc_column][vc_column_text]9 नवम्बर 2016 की तारीख तो आपको याद ही होगी उस दिन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के नोटों को अघोषित किया था | जिससे की कई लोगो को इसका नुकशान उठाना पड़ा था | इससे उन ईमानदार लोगो की पूंजी भी बैंको में चली गई जिस पर उन्हें टैक्स देना पड़ा |

कई लोग सुबह से लेकर शाम तक बैंको की लाइन में खड़े रहे | कैसे भी करके 500 और 1000 के नोटों को बदलवा सके या बैंको में जमा करा सके |

और प्रधानमंत्री जी बोलते रहे की जिस भी व्यक्ति ईमानदारी कमाई हुई दौलत होगी उसका कुछ नहीं होगा | लेकिन जो व्यक्ति कालाधन रखेगा उसको समश्या होगी |

प्रधानमंत्री और बीजेपी ने नोटबंदी की बहुत तारीफ की थी और कहा था की ईमानदारी पैसा कमाओ और हमेशा अपनी राशि को बैंको में जमा कराओ |

लेकिन एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक राइट्स (एडीआर ) की रिपोर्ट के अनुसार भारत में सबसे ज्यादा चंदा भारतीय जनता पार्टी (BJP) को मिला है | और जिस किसी से यह चंदा मिल रहा है उसका पता नहीं है | जब भी पार्टी चंदा लेती है तो वह 20000 के चेक के रूप में लेती जिससे की उसमे PAN CARD के बिना चंदा लिया जा सके | नोटबंदी के बाद से बीजेपी ने अब तक 705 करोड़ का चंदा लिया है | और चंदा लेने में यह पार्टी सबसे ऊपर है |

चंदा मिलने के मामले में और राजनीती दल भी पीछे नहीं है | कांग्रेस ने भी इसी प्रकार 20000 में चंदा लिया है | जिससे की पैन कार्ड की आवस्यकता नहीं हो | बसपा ,सपा,आप सभी पार्टिया इसी प्रकार से चंदा लेकर आम जनता और सरकारी एजेंसियों को बेवकूफ बनाती रहती है | क्योकि जो यह धन आता है वह कला धन होता जोकी पूंजीपतियों के द्वारा दिया जाता है |

इस विषय में चुनाव आयोग भी कह चूका है की पाटिया चुनाव जितने के लिए पानी की तरह पैसा बहाती है | और ये पैसा कहा से आता है किसी को भी नहीं पता चलता है और इसकी डिटेल्स भी अपनी उपलब्द नहीं कराया जाता है |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *