Menu

ब्लू व्हेल की वजह से एक और जिंदगी खतरे में

ब्लू व्हेल की वजह से एक और जिंदगी खतरे में

[vc_row][vc_column][vc_column_text]मोत का सौदागर कहलाने ब्लू व्हेल गेम की वजह से दिल्ली में चौथी मंजिल से कूदकर एक छात्र ने आत्महत्या करने की कोशिश की अभी वह छात्र हॉस्पिटल में भरती है | और अपने जीवन के लिए संगर्ष कर राह है | यह घटना जब हुई तब वह स्कूल से लोटा और खुश देर अपने कमरे में कंप्यूटर के साथ समय बिता कर चौथी मंजिल से कूद गया | जिस्सको आस पास वालो ने उठा कर हॉस्पिटल पहुंचाया |

इस छात्र का नाम खुश है जो की 11 क्लास में पड़ता था | पुलिस मामले की जच्ग कर रही है | खुश के परिवार वालो ने बताया की खुश कुछ दिनों से बिलकुल गुमशुम चल रहा था | और किसी से भी बात नहीं कर रहा था | स्कूल से सीधा घर पर आ कर अपने कमरे में चला जाता था | वह कुछ समय से चीड़ चिड़ा भी हो गया था |

पुलिस ने उसके दोस्तों से भी बात करने की कोशिश की जिससे की सही करने का पता लगाया जा सके | दोस्तों का यही कहना था की वह कुछ समय से क्लास में भी गुमसुम रहता था | पुलिस का कहना है शायद कोई प्रॉब्लम होंने के कारण वह परेशान रहता होगा जिससे वह डिप्रेस्शन का शिकार हो गया | जिससे परेशान होकर उसने यह कदम उठाया |

पुलिस उसके कम्प्यूटर्स को भी चेक कर रही जिससे की पता लगाया जा सके की वह ब्लू व्हेल गेम में एक्टिव था या नहीं | और दूसरे पहलु को भी पुलिस जांच कर रही है | जिससे की सच्चाई का पता लगाया जा सके |

कुछ समय से ब्लू व्हेल गेम से हो रही घटाएँ बढ़ रही है | अब तक भारत में ब्लू व्हेल से आत्महत्या करने वालो की संख्या 3 हो गई है |यह गेम खाश उम्र वालो को ही अपना शिकार बनाता है | और उनको अपनी जान देने को मजबूर कर देता है | यह गेम बहुत खतरनाक है | इस गेम को गूगल से हटाने का आदेश भी दिया जा चूका है |

इस गेम के अंदर 52 स्टेजेस होती है जिसमे शुरुआत से ही बच्चे को अनेक प्रकार की जान लेवा टास्क दिया जाता है जिससे की वह बच्चा उन टास्क को करने का आदि हो जाये | और गेम के लास्ट स्टेज में बच्चे को आत्महत्या करने के लिए उकसाया जाता है | और वह यह कदम उठा भी लेता है |[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *