Menu

तीन तलाक केस में 5 धर्मो के जजों ने सुनाये ये फैसले .

तीन तलाक केस में 5 धर्मो के जजों ने सुनाये ये फैसले .

सुप्रीम कोर्ट ने 22 अगस्त को तीन तलाक के मामले में अहम फैसला सुनाया हे . इस मामले में सबसे खास बात यह थी की पांच अलग अलग धर्मो के जजों ने यह फैसला सुनाया हे . और इससे पहले इस केस की सुनवाई के लिए सविधान पीठ गठित की गयी थी .11 से 18 मई तक रोजाना सुनवाई के बाद इस केस का फैसला आज सुनाया हे . वही पर इस केस की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा हे की मुस्लिम समुदाय में शादी तोड़ने के लिए यह सबसे खराब तरीका हे इस तरीके से शादी नहीं तोड़ी जनि चाहिए , साथ ही कोर्ट ने ये भी कहा हे की यह तरीका बिलकुल ही गैरजरूरी हे . वही पर कोर्ट ने सवाल किया हे की जो धर्म के मुताबिक़ ही घिनोना हे , इस तरीके का क़ानून के तहत वेध ठहराया जा सकता हे .

1 जस्टिस जगदीश सिंह खेहर (सिख): सिख समुदाय से तालुक रखने वाले देश के पहले चीफ जस्टिस हे . देश के 44 चीफ जस्टिस हे . ये 2011 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने थे इसी 27 अगस्त को रिटायर होने वाले हे |

2 .जस्टिस कुरियन जोसफ (क्रिश्चिएन): ये जज केरल की तरफ से ताल्लुक रखते हे . 1979 केरल है कोर्ट में वकालत शुरू की थी .2000 में केरल हाई कोर्ट के जज बने थे , 2013 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने थे और ये 2018 में नवम्बर में रिटायर होंगे |

3. रोहिंग्‍टन फली नरीमन (पारसी): 1956 में जन्‍मे नरीमन महज 37 साल की उम्र में सुप्रीम कोर्ट के सीनियर काउंसल बने. हालांकि उस वक्‍त इस पद के लिए कम से कम 45 साल की उम्र का होना जरूरी था लेकिन जस्टिस वेंकटचेलैया ने फरीमन के लिए नियमों में संशोधन किया. पश्चिमी शास्‍त्रीय संगीत में रुचि और इसके गहन जानकार हैं. प्रकृति प्रेमी हैं.

4. जस्टिस उदय उमेश ललित (हिंदू): 1957 में जन्‍मे जस्टिस ललित ने 1983 में बांबे हाई कोर्ट से वकालत शुरू की. अप्रैल, 2004 में सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट बने. 2जी मामले में सीबीआई की तरफ से विशेष अभियोजक रहे. 2014 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने. 2022 में रिटायर होंगे.

5. जस्टिस एस अब्‍दुल नजीर (मुस्लिम): 1958 में जन्‍मे जस्टिस नजीर ने 1983 में कर्नाटक हाई कोर्ट में वकालत शुरू की. 2003 में कर्नाटक हाई कोर्ट के अतिरिक्‍त जज बने और उसके अगले ही साल स्‍थायी जज बने. इसी साल फरवरी में सुप्रीम कोर्ट के जज नियुक्‍त हुए.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *