Menu

दिमागी बुखार है जानलेवा ,जाने इसके लक्षण और बचने के उपाय

दिमागी बुखार है जानलेवा ,जाने इसके लक्षण और बचने के उपाय

दिमागी बुखार जिसको की मेडिकल भाषा में फंगल मेनिनजाइटिस भी बोलते है | यह बारिश के दिनों में बहुत से लोगो में हो जाता है | इस बुखार का सही इलाज नहीं मिलने पर इंसान की मर्त्यु भी हो सकती है | इसका इलाज और इसके लक्षण जानना बहुत आवश्यक है | यह बुखार बारह की वजह से पैदा होने वाले मेनिनजाइटिस मच्छरों के काटने से होती है |

फंगल मेनिनजाइटिस होने के कारण

फंगल मेनिनजाइटिस होने का मुख्य कारण है बारिश में पनपने वाले मेनिनजाइटिस मच्छर जिसके काटने पर आपको यह रोग हो सकत है | और संक्रमित लोगो के प्रभाव में आने से | शरीर में रोग प्रतिरोधका क्षमता काम होने पर यह भुकहार हो सकता है |

फंगल मेनिनजाइटिस होने पर लक्षण

फंगल मेनिनजाइटिस होने पर आपको शरीर में कमजोरी महसूस होने लगती है | शरीर में थकान होना शुरू हो जाती है | शरीर में कपकपी आना ,उलटी आना , जोड़ो में दर्द, शरीर गर्म हो जाना , आखो में आशु आना ,चक्कर आना आदि शरीर में लक्षण होने पर तुरंत आपको इसका इलाज करना चाहिए यह फंगल मेनिनजाइटिस होने के चांस बढ़ जाते है |

फंगल मेनिनजाइटिस से बचाव के उपयोग

- फंगल मेनिनजाइटिस से बचने के लिए इसके बाजार में टिका उपलब्ध है | अच्छे डॉक्टर के पास इसका टिका लगवाने से आप इससे बच सकते है | इसका टिका काफी प्रभावी है जोकि इसके दिमागी बुखार होने की संभावना को काम करता है |

- बारिश के मौशम में पनपने वाले मेनिनजाइटिस मच्छरों से बचे | और उनको शरीर को काटने से रोकने का प्रभावी इलाज करे |

-बुखार होने पर शरीर को ज्यादा से ज्यादा आराम दे और अच्छे डॉक्टर्स से इसका इलाज करवाए | बुखार होने पर ज्यादा से ज्यादा से पोषण से भरपूर खाद्य पर्दाथो का सेवन करे | हो सके तो फ्रूट ज्यूस अपने डाइट में जरूर रखे | जिससे की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है |

-बच्चो को जिस भी व्यक्ति के बुखार है उससे दूर रखे | जिससे की संक्रमण न बढे |

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *