Menu

एक आइडिया ने बदल दी पान वाले की लाइफ , हो गया अरबपति

एक आइडिया ने बदल दी पान वाले की लाइफ , हो गया अरबपति

 

  • गुटखा किंग’ के नाम से मशहूर पान सेलर्स वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरिभाई लालवानी (65) का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया और उनकी चारों बेटियों ने उनकी अर्थी को कंधा दिया. उनकी शव यात्रा नोएडा के सेक्टर-40 स्थित घर से गाजे-बाजे के साथ निकाली गई और उनकी एक बेटी ने उन्हें मुखाग्नि दी.

  • एक आइडिया ने बदल दी थी लाइफ, पान वाला बन गया अरबपति

    2 / 5

    लालवानी की बेटी अनीता लालवानी ने बताया कि उन्होंने मृत्यु से पहले यह इच्छा जताई थी कि जब उनकी मौत हो तो उनकी शव यात्रा किसी उत्सव के समान निकाली जाए. बता दें कि हरिभाई लालवानी का एक पान वाले से अरबपति बनने का सफर बेहद संघर्ष भरा रहा.

  • एक आइडिया ने बदल दी थी लाइफ, पान वाला बन गया अरबपति

    Advertisement

    3 / 5

    उनका जन्म 1952 में दिल्ली के दरियागंज में हुआ. यहीं के मोतीमहल के सामने प्रिंस पान सेंटर नाम से उनके पिता टिकमचंद लालवानी दुकान चलाते थे. हरिभाई भी यहां काम संभालते थे.

  • एक आइडिया ने बदल दी थी लाइफ, पान वाला बन गया अरबपति

    4 / 5

    कुछ साल बाद उन्होंने प्रिंस गुटखा नाम से खुद की कंपनी शुरू की, जो पैक्ड पान मसाला और गुटखा प्रोडक्ट्स बनाती थी. उनका यह आयडिया इस कदर हिट हुआ कि 2002 में उनकी कंपनी का टर्नओवर 400 करोड़ के पार पहुंच गया. अज दिल्ली, मुंबई, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में उनका बिजनेस फैला है. 82 से भी ज्यादा आज उनके देश भर में स्टोर्स हैं, जिन्हें उनकी बेटियां संभालती हैं.

  • एक आइडिया ने बदल दी थी लाइफ, पान वाला बन गया अरबपति

    5 / 5

    हरी भाई आज लोगों के बीच गुटखा किंग नाम से जाने जाते हैं. यही नहीं, उन्होंने देशभर के पान सेलर्स वेलफेयर एसोसिएशन की भी स्थापना की और अध्यक्ष बने. अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने वर्ष 1994 में हुए बहुचर्चित नोएडा आवासीय आवंटन घोटाला को जोर-शोर से उठाया था, जिसमें नोएडा प्राधिकरण की तत्कालीन मुख्य कार्यपालक अधिकारी नीरा यादव और आईएस अधिकारी राकेश कुमार को सीबीआई की अदालत ने सजा सुनायी थी.

 

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *