Menu

सुनंदा पुष्कर मौत मामले में शशि थरूर को मिली जमानत

सुनंदा पुष्कर मौत मामले में शशि थरूर को मिली जमानत
सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में आज शशि थरूर एडिशनल चीफ़ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट के सामने हाज़िर हुए. कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है. दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में थरूर को आत्महत्या के लिए उकसाने और पत्नी के साथ क्रूरता बरतने का आरोपी बनाया है. गुरुवार को ही पटियाला हाउस कोर्ट ने उन्हें इस मामले में अग्रिम ज़मानत दे दी थी. हालांकि दिल्ली पुलिस ने उनकी अग्रिम जमानत अर्जी का विरोध किया, लेकिन कोर्ट ने 1 लाख रुपए के निजी मुचलके पर राहत दे दी थी. थरूर के विदेश जाने पर रोक रहेगी. थरूर को मिली राहत पर भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि थरूर को जश्न मनाने की जरूरत नहीं है. वे तिहाड़ जेल में नहीं हैं. वे अब सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ बैठ सकते हैं, क्योंकि वे दोनों भी 'जमानतवाले' हैं.

सुनंदा पुष्कर केस: दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने शशि थरूर को अग्रिम जमानत दी

आपको बता दें कि इससे पहले 5 जून को पटियाला हाउस कोर्ट ने कहा था कि थरूर के खिलाफ केस चलाने के लिए पर्याप्त आधार हैं. कोर्ट ने उन्हें 7 जुलाई को पेश होने का आदेश दिया था। दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में थरूर को आत्महत्या के लिए उकसाने और पत्नी के साथ क्रूरता बरतने का आरोपी बनाया है. पुलिस का कहना है कि थरूर के खिलाफ आरोपों की जांच पेशेवर तरीके से की गई है. गौरतलब है कि साढ़े चार साल पहले सुनंदा की मौत हुई थी, 17 जनवरी 2014 की रात दिल्ली के लीला होटल के कमरा नंबर 345 में सुनंदा पुष्कर संदिग्ध हालात में मृत मिली थीं. दिल्ली पुलिस ने जांच शुरू की और एक साल बाद मर्डर केस दर्ज किया था. एम्स की विसरा रिपोर्ट के मुताबिक, सुनंदा की बॉडी में किसी तरह का जहर नहीं मिला था. पुलिस थरूर से भी लंबी पूछताछ कर चुकी है.


Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *