Menu

FIFA WC 2018: ब्राजील का सपना हुआ चूर, क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम ने हराया

FIFA WC 2018: ब्राजील का सपना हुआ चूर, क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम ने हराया
बेल्जियम ने शुक्रवार देर रात खेले गए फीफा विश्व कप के एक रोमांचक क्वार्टर फाइनल मुकाबले में पांच बार की विजेता ब्राजील को 2-1 से शिकस्त दी. इस जीत के साथ ही बेल्जियम ने पहली बार विश्व कप का खिताब जीतने के अपने सपने को जिंदा रखा है. बेल्जियम 1986 में हुए विश्व कप के बाद पहली बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब हो पाई है.

सेमीफाइनल में बेल्जियम का सामना मंगलवार को फ्रांस से होगा. बेल्जियम के स्टार मिडफील्डर केविन डे ब्रूने ने इस अहम मैच में आक्रामक खेल दिखाया जिसका लाभ टीम को मिला, हालांकि, कजान ऐरेना में खेले गए मुकाबले की शुरुआत ब्राजील के लिए शानदार रही. मैच के आठवें मिनट में ब्राजील ने आक्रमण किया, डिफेंडर थियागो सिल्वा को अपनी टीम को बढ़त दिलाने का मौका मिला लेकिन वह गेंद को गोल में नहीं डाल पाए.

बेल्जियम इस शुरुआती झटके से जल्द ही उबरी और 13वें मिनट में कॉर्नर अर्जित किया. अनुभवी डिफेंडर विंसेट कोम्पनी ने बेहतरीन क्रॉस दिया और गेंद ब्राजील के मिडफील्डर फर्नाडिन्हो के हाथों से लगकर गोल में चली गई. एक गोल की बढ़त बनाने के बाद बेल्जियम ने अधिक आत्मविश्वास के साथ आक्रमण किया.

ये भी पढ़ें: अर्जेंटीना की हार के बाद लियोनल मेसी अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल को कहेंगे अलविदा!

ब्राजील को भी बीच-बीच में गेंद मिली लेकिन वे काउंटर अटैक पर बराबरी का गोल करने में कामयाब नहीं हो पाए. मैच के 31वें मिनट में स्ट्राइकर रोमेलु लुकाकू ने बॉक्स के बाहर केविन डे ब्रूने को पास दिया जिन्होंने दाईं छोर से दमदार गोल दागते हुए अपनी टीम की बढ़त को 2-0 कर दिया.

ब्राजील ने दूसरे हाफ की भी तेज शुरुआत की और गेंद पर नियंत्रण बनाकर बेल्जियम के डिफेंस पर दबाव बनाया. 56वें मिनट में स्ट्राइकर गेब्रिएल जीसस बाईं छोर से बेल्जियम के डिफेंडर को छकाते हुए बॉक्स में दाखिल हुए लेकिन वे गोलकीपर तिबाउत कोर्टुआ को भेदने में कामयाब नहीं हो पाए. बेल्जियम के कप्तान ईडन हेजार्ड को 62वें में काउंटर अटैक पर गोल करने का मौक मिला, उन्होंने बॉक्स के बाहर बाएं छोर से शॉट लगाया लेकिन वह भी गेंद को गोल में नहीं डाल पाए.

हेजार्ड के प्रयास के बाद भी ब्राजील ने विपक्षी टीम के बढ़त को कम करने की कोशिश जारी रखी. 76वें मिनट में एफसी बार्सिलोना से खेलने वाले फिलिपे कोटिन्हो ने बॉक्स के बाहर से क्रॉस दिया जिस पर हेडर से गोल करके रेनाटो ऑगस्तो ने मैच में अपनी टीम की वापसी करा दी. मैच के अंतिम क्षणों में ब्राजील ने बराकरी का गोल करने के कई प्रयास किए लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *